जज- मैने तुम्हे कही देखा है मुजरीम

जज- मैने तुम्हे कही देखा है मुजरीम

जज- मैने तुम्हे कही देखा है

मुजरीम- मै कोठे पर तबला बजाता हूँ साहब

कोर्ट मे सन्नाटा

जज-(मन मे ) हरामी साला
😜😜😜😜😂😂😂

सर्दियॉं आ गई हैं 😋😋
.
दिन छोटे होते जायेंगे
और खानदान बड़े😂😂

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.